अघोरी बाबा कहां मिलेंगे / सबसे ज्यादा अघोरी बाबा कहां रहते हैं

अघोरी बाबा कहां मिलेंगे / सबसे ज्यादा अघोरी बाबा कहां रहते हैं – आप सभी लोगो ने अघोरी बाबा के बारे में तो सुना ही होगा. और काफी लोगो ने अघोरी बाबा को देखा भी होगा. इनके शरीर पर हमेशा भस्म लगी रहती हैं. और यह तांत्रिक क्रिया करने में माहिर माने जाते हैं.

Aghori-baba-kha-milege-sabse-jyada-rhte-h (1)

अगर आप में से किसी ने अघोरी बाबा को नहीं देखा हैं. तो हमारे देश में लगने वाला सबसे बड़ा मेला कुंभ मेले में आपको लाखों की संख्या में अघोरी बाबा मिल जाएगे. वैसे इनका जीवन बहुत ही कठिन होता हैं. तथा दुसरे बाबा की तुलना में अघोरी बाबा बहुत ही अलग होते हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की अघोरी बाबा कहां मिलेंगे. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो यह सभी महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

अघोरी बाबा कहां मिलेंगे

काफी लोगो का सवाल होता है की अघोरी बाबा कहां मिलेंगे. वैसे तो अघोरी बाबा अगर आपको आसानी से मिल जाए तो अच्छी बात हैं. लेकिन कई बार अघोरी बाबा से मिलना हमारे लिए बहुत ही कठिन काम हो जाता हैं. क्योंकि अघोरी बाबा किसी को भी आसानी से नहीं मिलते हैं. अधिकतर अघोरी बाबा हिमालय पर सुनसान जगह पर ही वास करते हैं.

तो कुछ अघोरी बाबा श्मशान में बड़े ही आसानी से मिल जाते हैं. दरअसल अघोरी बाबा तांत्रिक क्रिया करने में माहिर होते हैं. और अघोरी बाबा हमेशा ही श्मशान में तांत्रिक क्रिया करते हैं. अगर आप श्मशान में जाते हैं. तो शायद कोई अघोरी बाबा तांत्रिक क्रिया करते हुए आपको मिल जाए.

इसके अलावा आप बड़ी आसानी से अघोरी बाबा को मिलना चाहते हैं. तो हमारे देश में लगने वाला सबसे बड़ा मेला कुंभ के मेले में जा सकते हैं. यह मेला हर साल लगता हैं. इस मेले में लाखो की संख्या में अघोरी बाबा आते हैं. और लोगो को दर्शन देते हैं.

जैसे ही मेला खत्म हो जाता हैं. अघोरी बाबा अपनी किसी सुनसान जगह या फिर हिमालय पर जाकर रहने लगते हैं.

भगवान शिव को प्रकट करने का मंत्र क्या है – सम्पूर्ण जानकारी

सबसे ज्यादा अघोरी बाबा कहां रहते हैं

ऐसा माना जाता है की भगवान शिव की नगरी वाराणसी और काशी में सबसे अधिक अघोरी बाबा रहते हैं. यह स्थान अघोरी बाबा का गढ़ माना जाता हैं. यहां पर भी भारी मात्रा में अघोरी बाबा तपस्या और ध्यान करने के लिए आते हैं.

अगर आप चाहे तो काशी या वाराणसी में भी अघोरी बाबा को मिल सकते हैं. यहां पर आपको निश्चित ही अघोरी बाबा मिल जाएगे.

Aghori-baba-kha-milege-sabse-jyada-rhte-h (2)

महामृत्युंजय मंत्र का जाप कब करना चाहिए / महामृत्युंजय मंत्र की विशेषता

अघोरी बाबा की पहचान क्या है

अघोरी बाबा की सबसे बड़ी पहचान यह है की इनके शरीर पर हमेशा श्मशान की भस्म लगी रहती हैं. और हमेशा ही भगवान शिव के ध्यान में लीन रहते हैं. इनकी वेशभूषा दुसरे बाबाओं से अलग होती हैं. इनके शरीर पर कपडे नहीं होती हैं. अगर होते भी है तो बहुत ही कम कपडे होते हैं. इसलिए यह नागा साधुओं के नाम से भी जाने जाते हैं.

पानी बढ़ने का मंत्र / जमीन में पानी होने के संकेत – पानी देखने की जड़ी बूटी

अघोरी बाबा के कुछ रोचक तथ्य

अघोरी बाबा के कुछ रोचक तथ्य हमने नीचे बताए हैं. जिसे जानकर आप भी दंग रह जाएगे.

  • अघोरी बाबा का इतिहास आज नहीं बल्कि 1000 वर्ष पुराना हैं.
  • अघोरी बाबा रात के समय में श्मशान में तांत्रिक क्रिया करते हैं.
  • दुसरे बाबा की तुलना में अघोरी बाबा का मुख काफी अधिक डरावना होता हैं.
  • यह सांसारिक जीवन से दूर ही रहते हैं.
  • अघोरी बाबा को इस दुनिया की किसी भी वस्तु से कोई मतलब नहीं होता हैं. संसार का सुख भोगने में उनको कोई भी रूचि नहीं होती हैं. यह लोग अपना जीवन अलग प्रकार से ही व्यतीत करते हैं.
  • अघोरी बाबा इस संसार की प्रत्येक चीज़ को भगवान शिव और माता काली का अंग मानते हैं. अघोरी बाबा अपना पूरा जीवन माता काली और भगवान शिव को प्रसन्न करने में लगा लेते हैं.

Aghori-baba-kha-milege-sabse-jyada-rhte-h (3)

प्रेम विवाह के लिए शिव पूजा – प्रेम विवाह के लिए मंत्र 

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है की अघोरी बाबा कहां मिलेंगे. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह अघोरी बाबा कहां मिलेंगे / सबसे ज्यादा अघोरी बाबा कहां रहते हैं आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

दिव्य दृष्टि प्राप्ति मंत्र, अर्थ / दिव्य दृष्टि प्राप्ति के फायदे 

मनमुटाव दूर करने का उपाय / रिश्तों में मिठास लाने के उपाय

किस महीने में जन्मे बच्चे भाग्यशाली होते हैं / जून महीने में जन्मे बच्चे कैसे होते हैं