भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कौन सा है / कल्कि अवतार की पहचान

भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कौन सा है / कल्कि अवतार की पहचान – भगवान विष्णु को जगत का पालनहार माना जाता हैं. हिंदू धर्म में भगवान विष्णु की पूजा की जाती हैं. ऐसा माना जाता है की भगवान विष्णु की पूजा करने से विष्णु भगवान मनुष्य की सभी मनोकामना पूर्ण करते हैं.

हमारे धर्म ग्रंथो में यह वर्णन मिलता है. की जब जब धरती पर पाप और अन्याय बढेगा. तब भगवान विष्णु किसी ना किसी रूप में अवतार लेकर पापियों का विनाश करेगे.

Bhagwan-Vishnu-ka-antim-avtar-kaun-sa-h-klki-pahchan (1)

भगवान विष्णु अभी तक नरसिंह अवतार, वामन अवतार, मत्स्य अवतार, कृष्ण अवतार, राम अवतार ले चुके हैं. लेकिन भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कौन सा होगा इसके बारे में शायद बहुत कम लोग जानते हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कौन सा है. तथा कल्कि अवतार की पहचान और कल्कि अवतार कब होगा इस बारे में भी संपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

एकादशी व्रत में दूध पीना चाहिए या नहीं / एकादशी के दिन सिर धोना चाहिए या नहीं

भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कौन सा है

विष्णु पुराण के अनुसार ऐसा माना जाता है. की भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कल्कि अवतार होगा.

कलयुग में कौन से भगवान की पूजा करनी चाहिए / कलयुग में कौन कौन से देवता है

भगवान विष्णु कल्कि अवतार लेने के लिए किसी ब्राह्मण के घर में जन्म लेगे ऐसा माना जाता हैं. जब धरती पर पाप बढेगा. तब भगवान विष्णु कल्कि अवतार में दोनों हाथों में तलवार लेकर युद्ध करेगे. तथा पापियों का नाश करेगे. पापियों का नाश करने के बाद फिर से सतयुग का आरंभ होगा.

कल्कि अवतार की पहचान

हमारे धर्म ग्रंथो में कल्कि अवतार की पहचान करने के लिए कुछ बाते लिखी गई हैं. जिससे मनुष्य कल्कि अवतार की पहचान कर सकते हैं.

भगवान विष्णु कल्कि अवतार लेने के लिए किसी ब्राह्मण के घर में जन्म लेगे. ऐसा माना जाता है की किसी संभल ग्राम में विष्णुयश नामक ब्राह्मण के घर में भगवान विष्णु जन्म लेगे. भगवान विष्णु देवदत नामक घोड़े पर सवार होकर तथा दोनों हाथों में तलवार लेकर पापियों का नाश करेगे. और फिर से सतयुग का प्रारंभ करेगे.

कलयुग का कड़वा सच क्या है – सम्पूर्ण जानकारी

ऐसा भी माना जाता है की कल्कि अवतार में इनकी माता का नाम सुमति होगा. इसके अलावा उनके तिन बड़े भाई भी होगे. जिनका नाम सुमंत, प्राज्ञ और कवि होगा. तथा भगवान परशुराम श्री कल्कि के गुरु होगे.

Bhagwan-Vishnu-ka-antim-avtar-kaun-sa-h-klki-pahchan (2)

भगवान श्री कल्कि की दों पत्नी होगी. जिनका नाम पदमा और रमा होगा. भगवान श्री कल्कि के पुत्रों का नाम जय, विजय, मेघमाल और बलाहक होगा.

तो यह सभी बातों से मनुष्य कल्कि अवतार को पहचान सकेगे.

कल्कि अवतार की तारीख / कल्कि अवतार कब होगा / कल्कि अवतार जन्म ले चुका है

ऐसा माना जाता है की कलयुग में भगवान विष्णु कल्कि अवतार लेकर जन्म लेगे. भले ही अभी कलयुग चल रहा है. लेकिन अभी कल्कि अवतार का जन्म नहीं हुआ हैं.

अपराजिता का फूल किस भगवान को चढ़ता है / सफेद फूल की अपराजिता के फायदे

कलयुग के अंत में भगवान विष्णु कल्कि अवतार लेकर धरती पर जन्म लेगे. ऐसा माना जाता है की कलयुग 432000 वर्ष चलने वाला हैं. अभी तो कलयुग का प्रथम चरण ही चल रहा हैं. जब कलयुग का अंतिम चरण होगा. तब धरती पर कल्कि अवतार अवतरित होगा.

कल्कि अवतार भविष्य पुराण

जब कलयुग के अंत में धरती पर पाप अपनी चरमसीमा पर होगा. तथा अन्याय काफी अधिक बढ़ जाएगा. तब भगवान विष्णु कल्कि अवतार लेकर जन्म लेगे. और पापियों का नाश करके फिर से सतयुग की स्थापना करेगे.

Bhagwan-Vishnu-ka-antim-avtar-kaun-sa-h-klki-pahchan (3)

घर में कौन कौन सी मूर्ति रखनी चाहिए / घर में कितने इंच की मूर्ति रखनी चाहिए

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कौन सा है इस सवाल के जवाब में बताया की भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कल्कि अवतार होगा. तथा कल्कि अवतार की पहचान और कल्कि अवतार कब होगा इस बारे में भी जानकारी प्रदान की हैं. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आप के लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कौन सा है / कल्कि अवतार की पहचान आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

शनिवार को सूर्य भगवान को जल देना चाहिए या नहीं / सूर्य भगवान को किस दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए

सूर्य को अर्घ्य देने का मंत्रतरीका, फायदे, समय / सूर्य को अर्घ्य क्यों देते हैं

गरुड़ पुराण कब पढ़ना चाहिए / गरुड़ पुराण के टोटके, नियम, और फायदे