धनदायक शिव मंत्र और जाप विधि | नंदी के कान में क्या बोला जाता है

धनदायक शिव मंत्र और जाप विधि | नंदी के कान में क्या बोला जाता है – भगवान शिव की उपासना करने से भगवान शिव से भक्तो को आशीर्वाद की प्राप्ति होती हैं. वैसे तो माँ लक्ष्मी को धन की देवी माना जाता हैं. सभी लोग धन की प्राप्ति के लिए माँ लक्ष्मी की पूजा-अर्चना करते हैं. लेकिन क्या आप जानते है. की शिवजी का ऐसा मंत्र भी है. जिसको भाव पूर्वक करने से धन की प्राप्ति होती हैं.

dhandayak-shiv-mantr-jap-vidhi-nandi-ke-kan-me-kya-bola (2)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से धनदायक शिव मंत्र के बारे में बताने वाले हैं. यह मंत्र करने से शिवजी का हमें आशीर्वाद मिलता है. और धन की प्राप्ति होती हैं.

धनदायक शिव मंत्र

अगर आप भी धन की कमी से परेशान है. और अपने जीवन में खूब सारा धन चाहते हैं. तो हमने नीचे धनदायक शिव मंत्र दिया है. तथा मंत्र करने की विधि भी आपको बताई हैं. आप विधि अनुसार मंत्र जाप करेगे. तो आपको जरुर ही धन की प्राप्ति होगी.

धनदायक शिव मंत्र

ओम नम: शिवाय

यह मंत्र है जिसके जाप से धन प्राप्ति के साथ सभी मनोकामना पूर्ण होती हैं.

शिव मंत्र की विधि

सबसे पहले आपको शिव मंदिर जाकर शिवलिंग की पूजा करनी हैं. शिवलिंग की पूजा करने के लिए बिल्व पत्र और बिल्व फल अर्पित करे. जब आप शिवलिंग की पूजा करते है. उस समय ऊपर दिया गया मंत्र साथ में उच्चारण करते रहे. शिवलिंग की पूजा करने के बाद शिवजी की आरती करे. अब शिवजी से अपनी जो भी मनोकामना है. वह पूर्ण करने के लिए प्रार्थना करे.

दुश्मन को परास्त करने का उपाय / शत्रु का नाश करने का उपाय

यह क्रिया आपको रोजाना नियमित रूप से 40 दिन तक लगातार करनी हैं. इसके बाद कुछ ही दिनों में आपकी धन की इच्छा पूर्ण होगी.

नंदी के कान में क्या बोला जाता है

आपने लगभग सभी शिव मंदिर में शिवजी का वाहन नंदी को देखा होगा. नंदी की प्रतिमा भी शिव मंदिर में स्थापित की जाती हैं. लेकिन कुछ लोगो का मानना है. की नंदी के कानों में बोलने से मनोकामना पूर्ण होती हैं.

नंदी के कान में भक्त अपनी जो भी समस्या होती है वह बोलते हैं. या फिर भक्त की जो भी मनोकामना होती है. वह नंदी के कान में बोली जाती हैं. नंदी के कान में इसलिए बोला जाता है.

dhandayak-shiv-mantr-jap-vidhi-nandi-ke-kan-me-kya-bola (3)

क्योकि भगवान शिव हमेशा अपनी तपस्या में लगे रहते है. तो ऐसा माना जाता है. की उनके वाहन नंदी के कान में कुछ भी बोलने से वह बात भगवान शिव तक पहुंच जाती हैं.

दुश्मन को पागल करने का टोटका | कपूर से दुश्मन को बीमार करना

सपने में नंदी को देखना क्या संकेत देता है

नंदी बैल सम्पन्नता का प्रतीक माना जाता हैं. अगर आपको शिवजी का वाहन नंदी सपने में दिखाई दे तो यह अच्छी फसल होने का संकेत है. तथा धन लाभ और सम्पन्नता का संकेत भी देता हैं.

सपने में शिवजी का त्रिशूल देखना क्या संकेत देता है

त्रिशूल को शक्ति का प्रतीक माना जाता हैं. अगर आपको शिवजी का त्रिशूल सपने में दिखे. तो समझ ले की कार्यक्षेत्र में आपका वर्चस्व बढ़ने वाला हैं. त्रिशूल का सपने में दिखाई देना. सभी पीड़ा और समस्याओं से राहत मिलने का भी संकेत माना जाता हैं.

dhandayak-shiv-mantr-jap-vidhi-nandi-ke-kan-me-kya-bola (1)

सपने में शिवजी का डमरू दिखना क्या संकेत देता है

डमरू को ध्वनी का प्रतीक माना जाता हैं. अगर आपने शिव जी का डमरू सपने में देखा है. तो आपके जीवन में कुछ बढ़िया सकारात्मक परिवर्तन होने वाला हैं. आप जो भी नया काम आरंभ करेगे. आपको उसमे निश्चित ही सफलता मिलेगी.

कर्ज मुक्ति रामबाण उपाय | गणेश जी, सूर्यदेवता पूजा कर्ज मुक्ति का रामबाण उपाय

सपने में शिवजी का सांप दिखना क्या संकेत देता है

सपने में सांप उन लोगो को दिखता है जिन्हें धनलाभ होने वाला हो. अगर आप सपने में सांप देखते है. तो निश्चित ही आपको धन की प्राप्ति होने वाली हैं. तथा नाग देवता का आशीर्वाद आप पर बना रहेगा.

सपने में शिवजी का चाँद दिखना क्या संकेत देता है

चाँद को ज्ञान का प्रतीक माना जाता हैं. अगर आपको सपने में चाँद दिखता है. तो यह मान ले की आपको कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेना हैं. फिर चाहे वह आपके शिक्षा से संबंधित हो. या फिर आपकी शादी से जुड़ा हुआ हो. अगर आप किसी बड़ी परीक्षा के रिजल्ट का इंतजार कर रहे है. तो यह सपना आप के लिए सफलता का संकेत देने वाला होगा.

पूजा कब नहीं करनी चाहिए | सुबह कितने बजे उठकर पूजा करनी चाहिए

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से धनदायक शिव मंत्र के बारे में बताया. तथा भगवान शिव जी से जुडी अन्य चीजों के बारे में भी आपको बताया हैं. हम उम्मीद करते है. की यह आर्टिकल आपको उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह आर्टिकल धनदायक शिव मंत्र और जाप विधि | नंदी के कान में क्या बोला जाता है अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

ब्रह्मचर्य के नुकसान क्या है | ब्रह्मचर्य पालन के नियम, अखंड ब्रह्मचर्य क्या है

स्त्री की कुंडली में मंगल का प्रभाव जाने (पुरे बाहरा भावो में)

शादी के बाद मांगलिक दोष उपचार |  मांगलिक लड़के की शादी के उपाय

नाम से जन्म कुंडली बनाना | जन्म कुंडली के लाभ, रहस्य, ग्रहों के घर