जप कामदेव गायत्री मंत्र 108 बार के लाभ | कामदेव गायत्री मंत्र जाप विधि और अर्थ

जप कामदेव गायत्री मंत्र 108 बार के लाभ | कामदेव गायत्री मंत्र जाप विधि और अर्थ – आज के समय में काफी लोग रिलेशनशिप में रहते हैं. रिलेशनशिप में रहने वाले लोगो में प्यार भी अधिक होता हैं. और झगड़े भी अधिक होते हैं. ऐसे में अगर आप की भी प्रेमिका रूठ गई हैं. और आप के बार-बार मनाने से भी नही मान रही है. तो आप मायूस हो जाते हैं. और अपने आप को असफल मानते हैं.

आपके तमाम प्रयासों के बाद भी आपकी प्रेमिका रूठी हुई है. और आपकी बात नही मान रही है. तो आपको मायूस होने की जरूरत नहीं हैं. दुनिया में ऐसी भी चीज़े है जिसे करके आप अपनी रूठी हुई प्रेमिका को मना सकते हैं.

jap-kamdev-gaytri-mantr-108-bar-ke-labh-vidhi-arth (2)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से जप कामदेव गायत्री मंत्र 108 बार के लाभ बताने वाले हैं. तथा कामदेव मंत्र, कामदेव मंत्र का अर्थ और कामदेव मंत्र जाप की विधि आपको बताने वाले हैं.

तो आइये आपको इस बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान करते हैं.

जप कामदेव गायत्री मंत्र 108 बार के लाभ

हम जो आपको कामदेव गायत्री मंत्र बताने वाले हैं. उस मंत्र जाप से आपको यह लाभ होगा की आपकी रूठी हुई प्रेमिका या पत्नी आपकी बात मान जाएगी. शास्त्रों के अनुसार कामदेव को प्रेम का देवता माना जाता हैं.

चेहरे के लिए मंत्र – सुंदरता के लिए कामदेव मंत्र – सौंदर्य प्राप्ति के मातृका मंत्र और विधि

अगर आप प्रेम के देवता कामदेव को मंत्र से प्रसन्न करते है. तो कामदेवता भी आपके रूठे हुए साथी को प्रसन्न करके आपके पास ले आते हैं.

कामदेव गायत्री मंत्र के कुछ लाभ हमने नीचे दिए हैं:

  • अगर आपका जीवनसाथी आपको पसंद न करता हो. या फिर आपके दाम्पत्यजीवन में कामसुख का अभाव हैं. तो ऐसी परिस्थिति में कामदेव गायत्री मंत्र लाभदायी साबित होता हैं.
  • कामदेव गायत्री मंत्र अत्यंत प्रभावशाली मंत्र हैं. इस मंत्र जाप से पुरुष की नपुंसकता दूर हो जाती हैं.
  • जिन लोगो का विवाह नही होता हैं. या फिर विवाह करने से डरते है. तथा जिनके विवाह के योग नही बनते हैं. उनके विवाह के योग बनने लगते हैं.
  • इस मंत्र जाप से वैवाहिक जीवन में चल रहे झगड़े समाप्त हो जाते हैं. तथा प्रेम का संचार होने लगता हैं.
  • इस मंत्र जाप से चेहरे पर हमेशा दिव्य प्रकाश रहता हैं. व्यक्ति इतना आकर्षक लगता है. की उसे देखने वाला कोई भी उस पर मोहित हो जाए.
  • इस मंत्र जाप से व्यक्ति की शारीरिक कमजोरी दूर हो जाती हैं. उस व्यक्ति में तेज की उत्पति हो जाती हैं. उसका शरीर हमेशा स्वस्थ रहता हैं. तथा उस व्यक्ति के मानसिक विकार भी दूर हो जाते हैं.
  • इस मंत्र जाप से वैवाहिक जीवन में तनाव उत्पन्न नही होता हैं. स्त्री एवं पुरुष दोनों ही एक दुसरे से संतुष्ट होते हैं. वह अपना जीवन शांति से और तनाव से मुक्त होकर गुजारते हैं.

आकर्षण बीज मंत्र, जाप-विधि, फायदे और लाभ – सम्पूर्ण जानकारी

अब हम आपको कामदेव गायत्री मंत्र बताने वाले हैं. जो हमने नीचे दिया हैं.

jap-kamdev-gaytri-mantr-108-bar-ke-labh-vidhi-arth (3)

कामदेव गायत्री मंत्र

कामदेव गायत्री मंत्र

क्लीं कामदेवाय विद्महेपुष्प बाणाये धीमहि ,
तन्नो अनंग प्रचोदयात

दोस्तों यह कामदेव गायत्री मंत्र हैं. इस मंत्र का जाप कैसे करना है. मंत्र जाप की सम्पूर्ण विधि हमने नीचे बताई हैं.

कामदेव गायत्री मंत्र जाप विधि

इस मंत्र का जाप करने से पहले कामदेव की या श्री कृष्ण की प्रतिमा के सामने आसन बिछा कर बैठ जाए. अब आपको स्फटिक की माला लेकर कामदेव गायत्री मंत्र का 108 बार जाप करना हैं. यह मंत्र जाप आपको नियमित रूप से निरंतर 6 माह तक करते रहना हैं. इससे आपको चमत्कारिक लाभ मिलते हैं.

वट सावित्री व्रत में क्या खाना चाहिए | वट सावित्री व्रत की विधि / वट सावित्री पूजा में क्या क्या सामान लगता है

इस मंत्र की मुख्य विशेषता यह है की नपुंसकता दूर करके परस्पर प्रेम में वृद्धि करता हैं.  और दाम्पत्यजीवन को सुखमय बनाता है.

jap-kamdev-gaytri-mantr-108-bar-ke-labh-vidhi-arth (1)

कामदेव गायत्री मंत्र का अर्थ

कामदेव गायत्री मंत्र प्रेम के देवता कामदेव को प्रसन्न करने का मंत्र हैं. हम इस मंत्र जाप से कामदेव को प्रसन्न करते हैं. और हमारे दाम्पत्यजीवन में आने वाली अडचने दूर करने के लिए प्रार्थना करते हैं.

गुस्सा कम करने का मंत्र | क्रोध कम करने का उपाय / तरीका

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से जप कामदेव गायत्री मंत्र 108 बार के लाभ आपको बताए हैं. तथा कामदेव गायत्री मंत्र और कामदेव गायत्री मंत्र करने की विधि आपको बताई हैं. अगर आप प्रमिका या पत्नी से संतुष्ट नहीं है. या फिर वह रूठी हुई है. और आपके मनाने के बावजूद नही मान रही हैं. तो कामदेव गायत्री मंत्र जाप आप के लिए लाभदायी साबित होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह आर्टिकल जप कामदेव गायत्री मंत्र 108 बार के लाभ | कामदेव गायत्री मंत्र जाप विधि और अर्थ अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र / भगवान की शक्ति कैसे मिलती है

मदार की जड़ से संतान प्राप्ति के उपाय / संतान प्राप्ति के लिए जड़ीबूटी

मूंगा रत्न की कीमत क्या है | तिकोना मूंगा की कीमत / तिकोना मूंगा के फायदे

2 thoughts on “जप कामदेव गायत्री मंत्र 108 बार के लाभ | कामदेव गायत्री मंत्र जाप विधि और अर्थ”

Leave a Comment