पूजा करते समय सिर भारी होना क्या है कारण और क्या है संकेत

पूजा करते समय सिर भारी होना क्या है कारण और क्या है संकेत – कई बार पूजा करते समय हमे कुछ ना कुछ ना महसूस होता हैं. कई बार पूजा करते समय सिर भारी हो जाता है. तो कई बार पूजा करते समय उबासी आती है. या आंखो में से पानी निकलने लगता है. यह सब हम हमारे शरीर पर महसूस करते हैं.

लेकिन ऐसा होने के पीछे कुछ ना कुछ संकेत होता है. जिसके बारे में शायद ही सभी लोग जानते होगे. अगर आप भी पूजा करते समय कुछ ना कुछ महसूस कर रहे है. तो हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

Pooja-krte-samay-sir-bhari-hota-ubasi-nind-shi-ya-glat (2)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पूजा करते समय सिर भारी होना क्या है कारण और क्या है संकेत के बारे में बताने वाले हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से संबंधित अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

पूजा करते समय सिर भारी होना क्या है कारण और क्या है संकेत

अगर हम बहुत गहराई से या सच्चे मन से भगवान को याद करते हैं. तो ऐसी स्थिति में सिर भारी होने की संभावना बनती हैं. इसके अलावा या तो आप अधिक आनंद में है. तो सिर भारी हो सकता हैं. या फिर आप पर कोई ऊपरी शाया या बुरी शक्ति है. तो पूजा करते समय सिर भारी हो सकता हैं.

पारद शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए या नहीं | पारद शिवलिंग की कीमत और पहचान 

जप करते समय उबासी आना सही या गलत

जप करते समय उबासी आन ना ही सही माना जाता है. और ना ही गलत माना जाता हैं. लेकिन जप करते समय अगर उबासी आ रही है. तो यह समझा जा सकता है. की आपको जप करने में कोई भी दिलचस्पी नहीं हैं. आप जबरदस्ती किसी के कहने पर जप आदि कर रहे हैं.

शनि को तुरंत खुश करने के उपाय / शनिवार के कितने व्रत करना चाहिए

पूजा करते समय नींद का आना

अगर आपको पूजा करते समय नींद आ रही है. तो आपको भगवान में कोई श्रद्धा नहीं है. आप सिर्फ दुसरो को दिखाने के लिए पूजा कर रहे है. ऐसा माना जाता है की अगर पूजा करते समय नींद आती है. तो इसका मतलब है की आपके दिमाग में दौहरी विचारधारा चल रही हैं.

पितृ दोष की पूजा कहां पर होती है पितृ दोष शांति के अचूक उपाय

आपके मन में भगवान के विचार तो नहीं लेकिन अन्य कई प्रकार के विचार उत्पन्न हो रहे है. आप परेशान होकर या जबरदस्ती से भगवान की पूजा करेगे तो नींद आएगी. अगर आप चाहते है. की पूजा के दौरान नींद न आए. तो भगवान में रूचि रखकर भगवान की पूजा करे. इससे आपको नींद नहीं आएगी.

Pooja-krte-samay-sir-bhari-hota-ubasi-nind-shi-ya-glat (3)

पूजा करते समय अगरबत्ती का गिरना

पूजा करते समय अगर अगरबत्ती गिर जाती है. तो यह अशुभ माना जाता है. यह संकेत देता है. की आप पर कोई छोटा-मोटा संकट आने वाला हैं.

इसके अलावा पूजा करते समय अन्य और भी संकेत दिखाई देते है. जो हमने नीचे दिए हैं.

  • अगर अगरबत्ती करने के बाद अगरबत्ती का धुआ भगवान की प्रतिमा के तरफ जा रहा है. तो समझ लीजिए की आपकी प्रार्थना स्वीकार हो गई है. और बहुत जल्द आपकी मनोकामना पूर्ण होने वाली हैं.
  • अगर पूजा का दीपक अचानक से तेज हो जाए. तथा दीपक ज्योति अधिक ऊपर बढती हुई दिखाई दे. तो समझ लीजिए की आपकी सच्ची भक्ति से भगवान प्रसन्न है. जब ऐसा होता है तो तुरंत भगवान से अपनी मनोकामना पूर्ति की प्रार्थना करे. इससे आपकी मनोकामना जल्दी पूर्ण होगी.
  • यदि आपने भगवान की प्रतिमा के ऊपर फुल चढ़ाया है. तथा फुल आपकी तरफ गिरता हैं. तो समझ लीजिए भगवान आपकी आराधना से प्रसन्न है. और आपकी इच्छा जल्दी ही पूर्ण करने वाले हैं.
  • अगर पूजा करते समय आपके द्वार पर गाय माता आती है. तो यह शुभ माना जाता है. ऐसे में आप तुरंत ही गाय माता को रोटी खिलाए. और अपने मन की इच्छा गाय माता को बताए. इससे आपके मन की इच्छा जल्दी पूर्ण होगी.

Pooja-krte-samay-sir-bhari-hota-ubasi-nind-shi-ya-glat (1)

कालसर्प पूजा के बाद प्रतिबंध / कालसर्प दोष निवारण मंत्र तथा पूजा सामग्री

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पूजा करते समय सिर भारी होना क्या है कारण और क्या है संकेत के बारे में बताया हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से संबंधित अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह पूजा करते समय सिर भारी होना क्या है कारण और क्या है संकेत / जप करते समय उबासी आना सही या गलत आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

गुलाब कितने प्रकार के होते हैं | गुलाब में ज्यादा फूल कैसे लाएं

विमला तुलसी की पहचान / विमला तुलसी का पौधा कैसा होता है

अपराजिता का फूल किस भगवान को चढ़ता है / सफेद फूल की अपराजिता के फायदे

2 thoughts on “पूजा करते समय सिर भारी होना क्या है कारण और क्या है संकेत”

Leave a Comment