वट सावित्री व्रत में क्या खाना चाहिए | वट सावित्री व्रत की विधि / वट सावित्री पूजा में क्या क्या सामान लगता है

वट सावित्री व्रत में क्या खाना चाहिए /  वट सावित्री व्रत के व्रत की विधि और पूजा साम्रगी – महिलाएं साल भर में बहुत सारे व्रत करती हैं. जिनमें से एक है वट सावित्री का व्रत. वट सावित्री का व्रत महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए करती हैं. यह व्रत हर साल ज्येष्ठ मास की अमावस्या में रखा जाता हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताएगे की वट सावित्री व्रत में क्या खाना. तथा इसके साथ ही  वट सावित्री व्रत के व्रत की विधि और पूजा साम्रगी भी बताने वाले है.

Vat-Savitri-vrat-me-kya-khana-chahie-puja-kyo-vidhi (3)

तो आइये इस बारे में संपूर्ण जानकारी आपको प्रदान करते हैं.

वट सावित्री व्रत में क्या खाना चाहिए

वैसे तो वट सावित्री व्रत में पुरे दिन व्रत नहीं रखा जाता हैं. लेकिन कुछ महिलाएं पुरे दिन भी व्रत रखती हैं. वट सावित्री व्रत में जो पूजा में चढ़ाया जाता हैं. इसी चीजों को खाया जाता हैं.

Vat-Savitri-vrat-me-kya-khana-chahie-puja-kyo-vidhi (2)

वट सावित्री व्रत में आम, चना, पूरी, खरबूजा, गुलगुला पुआ इस सभी चीजों से वट वृक्ष की पूजा की जाती हैं. जब व्रत पूर्ण हो जाता है. तब इन्ही चीजों को वट सावित्री व्रत में खाया जाता हैं.

गुस्सा कम करने का मंत्र | क्रोध कम करने का उपाय / तरीका

वट सावित्री व्रत की विधि

वट सावित्री व्रत की संपूर्ण पूजा विधि हमने नीचे दी हैं.

  • वट सावित्री व्रत के दिन प्रात:काल घर की सफाई करके. स्नान आदि करके निवृत हो जाए.
  • इसके बाद पवित्र जल का पुरे घर में छिडकाव करके घर को शुद्ध कर दीजिए.
  • अब एक बांस की टोकरी लीजिए. जिसमें सप्त धान्य भरकर ब्रह्मा जी की मूर्ति की स्थापना करे.
  • ब्रह्मा जी के वाम पाश्र्व में सावित्री की मूर्ति स्थापित करे.
  • इसी प्रकार आपको दूसरी बांस की टोकरी लेकर सावित्री और सत्यवान की मूर्ति की स्थापना करनी हैं.
  • अब इन टोकरियों को वट वृक्ष के नीचे ले जाकर रखे.
  • अब आपको सत्यवान और सावित्री की पूजा करते हुए वृक्ष की जड में पानी देना हैं.
  • आपको पूजा में कच्चा सूत, रोली, मौली, जल, फुल, भिगोया हुआ चना और धुप का प्रयोग करना हैं.
  • वट वृक्ष को जल से सींचकर उसके तने के चारो तरफ कच्चा धागा लपेटकर तिन बार परिक्रमा देनी हैं.
  • अब बड के पत्तो के गहने बनाकर पहने और वट सावित्री व्रत कथा सुने.
  • अब भीगे हुए चने का बायना निकालकर. नकद रूपये रखे. और अपनी सास के पैर छुकर उनसे आशीर्वाद प्राप्त करे.
  • अगर सास वहा न हो तो बायना बनाकर अपनी सास तक पहुंचाए.
  • पूजा समाप्त होने के बाद ब्राह्मण को वस्त्र तथा फल आदि बांस की टोकरी में रखकर दान करे.
  • वट सावित्री व्रत में सावित्री सत्यवान की कथा का श्रवण करे और दूसरों को भी सुनाए.

तो यह वट सावित्री व्रत की संपूर्ण विधि थी. इस प्रकार व्रत करने से पूण्य फल की प्राप्ति होती हैं. यह व्रत करके महिलाएं वट के पेड़ की पूजा अर्चना करके अंखड सुहाग का वर मांगती हैं. और पति के लंबी आयु के लिए प्रार्थना करती हैं.

कर्ज उतारने का आसान तरीका | किस ग्रह के कारण कर्ज होता है

वट सावित्री पूजा में क्या क्या सामान लगता है

वट सावित्री व्रत में सावित्री-सत्यवान की मूर्तियां, घी, धुप, दीप, बांस का पंखा, सुहाग का सामान, भिगोया हुआ चना, कच्चा सूत, लाल कलावा, बरगद का फल, जल से भरा हुआ कलश यह सभी सामान लगता हैं.

Vat-Savitri-vrat-me-kya-khana-chahie-puja-kyo-vidhi (1)

मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र / भगवान की शक्ति कैसे मिलती है

वट सावित्री पूजा क्यों की जाती है

वट सावित्री की पूजा पति के लंबी आयु के लिए की जाती हैं. ऐसा माना जाता है की वट सावित्री का व्रत रखने से ब्रह्मा, विष्णु और महेश से सुहागिनों को सदा सौभाग्यवती रहने का वरदान मिलता हैं.

यह व्रत रख के अपने पति की लंबी आयु की कामना की जाती हैं. ऐसा माना जाता है की वट वृक्ष के नीचे सभी देवी-देवता का वास होता हैं. इसलिए देवी-देवता के आशीर्वाद मिलते हैं.

मदार की जड़ से संतान प्राप्ति के उपाय / संतान प्राप्ति के लिए जड़ीबूटी

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है की  वट सावित्री व्रत में क्या खाना चाहिए. तथा वट सावित्री व्रत करने की संपूर्ण विधि आपको बताई हैं. वट सावित्री व्रत विधि पूर्वक करने से शुभ फल की प्राप्ति होती हैं.

हम उम्मीद करते है की आपको हमारा यह आर्टिकल उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ है तो आगे जरुर शेयर करे.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह वट सावित्री व्रत में क्या खाना चाहिए /  वट सावित्री व्रत के व्रत की विधि और पूजा साम्रगी आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

पन्ना रत्न कितने दिन में असर दिखाता है / असली पन्ना रत्न की कीमत

मूंगा रत्न की कीमत क्या है | तिकोना मूंगा की कीमत / तिकोना मूंगा के फायदे

लड़कियों का कौन सा हाथ देखा जाता है | हाथ की रेखा कैसे देखी जाती है

4 thoughts on “वट सावित्री व्रत में क्या खाना चाहिए | वट सावित्री व्रत की विधि / वट सावित्री पूजा में क्या क्या सामान लगता है”

Leave a Comment