गुप्त अंग का फड़कना का संकेत | गुप्त अंग फड़कने का मतलब जाने

गुप्त अंग का फड़कना का संकेत | गुप्त अंग फड़कने का मतलब जाने – दोस्तों हमारा शरीर बहुत ही संवेदनशील है. तथा यह भविष्य में होने वाली बातो का संकेत पहले ही किस ना किसी तरह हमे दे देता है. जैसे जब हमारी बाई आँख फडकने लगती है. तो इसका अर्थ है की कुछ अच्छा होने वाला है. हमारे धर्म में भी विभिन्न किताबो में भी मानव अंग के फडकने से संकेत के बारे में उल्लेख प्राप्त होता है.

तुलसीदास जी ने अपनी रचना रामचरित मानस में मानव अंग के फडकने के संकेतो का उल्लेख किया है. उसी प्रकार से समुन्द्रशास्त्र में भी मानव अंग के फडकने से प्राप्त संकेत का विवरण मिलता है. पुरुष और स्त्री दोनों में अंगो का फडकने के अलग-अलग हो सकते है. लेकिन यह संकेत कुछ हद तक वास्तविक भी होते है.

आज हम आपको बताने वाले है मानव का गुप्त अंग जब फड़कता है तो इसका संकेत या मतलब होता है. इसके साथ ही हम मानव शरीर के अन्य अंगो के फड़कने के बारे में तथा इनसे मिलने वाले संकेतो के बारे में भी जानेगे.

gupta-ang-ka-phadkna-sanket-matlab-kya-hota-hai (1)

गुप्त अंग का फड़कना का संकेत | गुप्त अंग फड़कने का मतलब

अगर किसी व्यक्ति (स्त्री या पुरुष) का गुप्त अंग फड़कता है. तो इसका सीधा अर्थ यह निकलता है की आने वाले भविष्य में लम्बी यात्रा का योग बन रहा है. तो अगर आपके साथ भी कुछ ऐसा हो रहा है. तो आप अभी से खुश हो सकते है. क्योंकि निकट भविष्य में आप किसी लम्बी यात्रा में जाने वाले है. यह यात्रा आपके कार्य, नौकरी, धंधे या हनीमून से जुडी भी हो सकती है.

कागज पर नाम लिखकर दुश्मन का खात्मा कैसे करे | दुश्मन का खात्मा मंत्र

तो हमने  जाना की गुप्त अंग का फड़कना का संकेत क्या होता है. अब हम मानव शरीर के कुछ अन्य अंग फड़कने से प्राप्त संकेतो के बारे में भी जान लेते है.

मानव शरीर के अंगो का फड़कने के संकेत

कमर का फड़कना

अगर आपके कमर का पिछला भाग फडकता है. इसका अर्थ है आपको अपने व्यवसाय में उत्तम सफलता मिलने वाली है. इसके साथ ही आपको आने वाले दिनों में धन से जुडी योजनाओ में लाभ प्राप्त होने वाला है.

जांघ का फड़कना

जांघ का फड़कना एक अशुभ संकेत होता है. तथा यह संकेत है की  व्यक्ति के साथ निकट भविष्य में कुछ गलत या अपमान होने वाला है. ऐसा होने पर व्यक्ति के मान सम्मान में हानि होना संभव है.

काला गोरा भैरव शाबर मंत्र | काल भैरव शाबर मंत्र इन हिंदी

नाभि का फड़कना

अगर किसी स्त्री या पुरुष की नाभि फड़कती है. तो इसका अर्थ यह है की उस स्त्री या पुरुष को आने वाला समय में शारीरिक परिशानियो का सामना करना पड़ेगा.

पेट का निचला हिस्सा फड़कना

पेट का निचला हिस्सा फड़कना एक शुभ संकेत है. वही पेट का ऊपर का हिस्सा फड़कना एक अशुभ संकेत है. इसलिए अगर आपको यह संकेत मिलता है तो आपको अलर्ट हो जाना चाहिए.

gupta-ang-ka-phadkna-sanket-matlab-kya-hota-hai (3)

बाएं कान का फड़कना

समुन्द्रशास्त्र में बाएं कान के फड़कने के संकेतो का विवरण प्राप्त होता है. समुन्द्रशास्त्र के अगर किसी व्यक्ति के बाया कान फड़कता है. तो व्यक्ति की मेहनत रंग लाती है. और व्यक्ति को शुभ संकेत मिलते है.

हनुमान जी का शत्रु नाशक मंत्र करे सब संकट को दूर

हिप्स का फड़कना

हिप्स का फड़कना यह संकेत देता है की बहुत ही जल्द आपको अपना जीवन साथी मिलने वाला है. यह एक शुभ संकेत है.

मूंछ का फड़कना

मूंछ का फड़कना भी आपको महत्वपूर्ण संकेत देता है. अगर आपकी पूरी मूंछ फड़कती है इसका संकेत है की आपके ऐश्वर्या और धन में वृद्दि होने वाली है. लेकिन अगर आपके मूंछ का सिर्फ दांया भाग की फड़कता है. तो इसका संकेत यह है की आप निकट भविष्य में किसी विवाद में उलझने वाले हो.

gupta-ang-ka-phadkna-sanket-matlab-kya-hota-hai (2)

कंधे का फड़कना

कंधे का फड़कना भी आपको आने वाले समय के बारे में विभिन्न संकेत देता है. अगर आपका दांया कन्धा फड़कता है. तो इसका मतलब यही है की आपको आने वाले समय में अत्यधिक धन की प्राप्ति हो सकती है. और अगर बाया कंधा फड़कता है तो आपको अपने कार्य में सफलता बस बहुत ही जल्द मिलने वाली है. और अगर आपके दोनों कंधे  फड़कते है तो इसका संकेत यह है की आने वाले समय में आपको संघर्ष से गुजरना पड़ सकता है.

सुन्दरकाण्ड के टोटके सरल और छोटे | सुन्दरकाण्ड का पाठ करने की विधि और नियम

निष्कर्ष

इस आर्टिकल (गुप्त अंग का फड़कना का संकेत | गुप्त अंग फड़कने का मतलब जाने ) के जरिये आपने जाना है की अगर किसी व्यक्ति (स्त्री या पुरुष) का गुप्त अंग फड़कता है. तो इसका सीधा संकेत यह निकलता है की आने वाले भविष्य में उनका लम्बी यात्रा का योग बन रहा है. हमने आपको आर्टिकल में शरीर के विभिन्न अंगो के फड़कने के संकेत बताए है. आशा करते है की यह जानकरी उपयोगी लगी होगी. इस जानकारी को अन्य लोगो तक भी पहुचाए. धन्यवाद.

गर्भधारण करने के अचूक टोटके | पुत्र प्राप्ति के टोटके इन हिंदी

पुत्र प्राप्ति के लिए सूर्य मंत्र | पुत्र प्राप्ति के लिए उपाय | पुत्र प्राप्ति के उपाय मंत्र

मोर पंख से लड़का होने के उपाय क्या है जाने औषधि तैयार करनी की पूरी विधि

4 thoughts on “गुप्त अंग का फड़कना का संकेत | गुप्त अंग फड़कने का मतलब जाने”

Leave a Comment