प्रेम विवाह के लिए शिव पूजा – प्रेम विवाह के लिए मंत्र

प्रेम विवाह के लिए शिव पूजाप्रेम विवाह के लिए मंत्र – आज के आधुनिक ज़माने में लोग प्रेम विवाह को अधिक महत्व दे रहे हैं. और लोग प्रेम विवाह करते भी हैं. लेकिन काफी लोगो के परिवार वाले प्रेम विवाह के खिलाफ होते हैं. और वह अपनी संतान को प्रेम विवाह करने से रोकते है या फिर प्रेम विवाह नही करने देते हैं. और किसी किसी के परिवार वाले प्रेम विवाह करने के लिए अनुमति दे देते हैं.

Pram-vivah-ke-lie-shiv-pooja-mantr (1)

लेकिन जिनके माता पिता प्रेम विवाह के लिए अनुमति नहीं देते है. और प्रेम विवाह करने में काफी सारी अन्य बाधाएं उत्पन्न हो रही हैं. तो शिव पूजा के द्वारा प्रेम विवाह कर सकते हैं. यह पूजा कैसे करनी है यह जानने के लिए हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से प्रेम विवाह के लिए शिव पूजा तथा प्रेम विवाह के लिए मंत्र बताने वाले हैं. जिसे करने से आप सफलता पूर्वक प्रेम विवाह कर सकते हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान हैं.

प्रेम विवाह के लिए शिव पूजा

अगर आपको प्रेम विवाह करने में किसी भी प्रकार की बाधा आ रही हैं. तो आप शिव पूजा करके अपने विवाह में आ रही बाधा को दूर कर सकते हैं. अगर आपके माता पिता प्रेम विवाह के लिए नही मान रहे हैं. तो हमारे द्वारा बताए अनुसार शिव पूजा करने से आपके माता-पिता का ह्रदय परिवर्तन होगा. और आपको ख़ुशी-ख़ुशी प्रेम विवाह करने के लिए अनुमति दे देगे.

प्रेम विवाह करने के लिए शिव पूजा नीचे दिए गए तरीके से करे.

  • प्रेम विवाह के लिए रोजाना नियमति रूप से आपको सुबह उठकर स्नान आदि करने के बाद भगवान शिव के मंदिर जाना हैं.
  • इसके पश्चात दूध में गंगाजल मिलाकर शिवलिंग पर अर्पित करना हैं.
  • इतना हो जाने के बाद मंदिर में बैठे बैठे रुद्राक्ष की माला से “ओम सोमेश्वराय नम: मंत्र का 108 बार जाप करना हैं.
  • मंत्र जाप हो जाने के बाद भगवान शिव से अपनी मनोकामना पूर्ति की प्रार्थना करनी हैं. और उनके चरणों में पुष्प आदि चढाने हैं.
  • सिर्फ इतना करने पर भगवान शिव के मंगलमय आशीर्वाद से आपका प्रेम विवाह कुछ ही दिनों में ख़ुशी-ख़ुशी हो जाएगा.
  • अगर आप रोजाना इस प्रकार से शिव पूजा नहीं कर सकते हैं. तो सिर्फ सोमवार के दिन भी इस प्रकार से शिव पूजा कर सकते हैं. लेकिन आपके पास समय है और रोजाना इस प्रकार से पूजा कर सकते हैं. तो काफी अच्छी बात हैं.

Pram-vivah-ke-lie-shiv-pooja-mantr (2)

शिव अभिषेक पूजन सामग्री – शिव अभिषेक मंत्र / शिव अभिषेक कैसे और कब करे 

प्रेम विवाह के लिए मंत्र

प्रेम विवाह के लिए मंत्र और मंत्र जाप विधि हमने नीचे बताई हैं.

प्रेम विवाह के लिए मंत्र

ओम क्लीं कृष्णाय गोपीजन वल्लभाय स्वाहा

मंत्र जाप विधि

प्रेम विवाह को सफल करने के लिए और प्रेम विवाह को सफल बनाने के लिए भगवान श्री कृष्ण का यह बहुत ही प्रभावशाली मंत्र माना जाता हैं. श्री कृष्ण की आराधना करते हुए तथा राधा-कृष्ण की प्रतिमा के समक्ष बैठकर आप इस मंत्र का जाप कर सकते हैं. इस मंत्र का जाप आपको शुक्रवार के दिन करना हैं.

मंत्र जाप करने से पहले राधा-कृष्ण की पूजा अर्चना करे. उन्हें धूपदीप लगाए. और भोग चढ़ाकर उन्हें प्रसन्न करे. इसके बाद इस मंत्र का 108 बार रुद्राक्ष की माला से जाप करे. मंत्र जाप पूर्ण हो जाने के बाद अपनी मनोकामना पूर्ति की प्रार्थना करे.

सत्यनारायण व्रत में क्या खाना चाहिए सत्यनारायण कथा का महत्व

इस प्रकार से भगवान श्री कृष्ण की पूजा अर्चना करने से आपके प्रेम विवाह में आ रही बाधा दूर होती हैं. और श्री कृष्ण की कृपा से आपका प्रेम विवाह इस मंत्र के प्रभाव के कारण ख़ुशी-ख़ुशी कुछ ही दिनों में हो जाता हैं.

प्रेम विवाह योग कैसे बनता है

जब कुंडली के एकादश, पंचम तथा सप्तम भाव के स्वामियों में परस्पर प्रेम होता हैं. तब ऐसा योग प्रेम विवाह योग माना जाता है. इनके परस्पर प्रेम में परिवर्तन के कारण प्रेम विवाह योग में भी बाधा उत्पन्न होती हैं.

Pram-vivah-ke-lie-shiv-pooja-mantr (3)

पूजा करते समय हाथ जल जाना | घर के मंदिर में आग लगाना शुभ या अशुभ

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से प्रेम विवाह के लिए शिव पूजा तथा प्रेम विवाह के लिए मंत्र बताया हैं. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह प्रेम विवाह के लिए शिव पूजाप्रेम विवाह के लिए मंत्र आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

भोग लगाने की विधि / भोग लगाने का मंत्र

कनकधारा पाठ करने की विधि – श्री कनकधारा स्तोत्र मंत्र तथा चित्र 

शिव पूजा का सही समय, विधि मंत्र, नियम, तथा  लाभ