शनिवार को सूर्य भगवान को जल देना चाहिए या नहीं / सूर्य भगवान को किस दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए

शनिवार को सूर्य भगवान को जल देना चाहिए या नहीं / सूर्य भगवान को किस दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए – सभी देवताओं में सूर्य देवता एक ऐसे देवता है. जो हमे रोजाना दर्शन देते हैं. सूर्य भगवान ही समग्र सृष्टि को ऊर्जा और प्रकाश देते हैं. और लोगो को भी उनके प्रति श्रद्धा और विश्वास हैं. इसके लिए कुछ लोग सूर्य भगवान को जल अर्पित करके उन्हें याद करते हैं. कुछ लोग रोजाना नियमित रूप से सूर्य भगवान को जल चढाते हैं.

Shaniwar-ko-sury-bhagwan-ko-jal-dena-chahie-ya-nhi (1)

लेकिन कुछ लोगो के मन में शंका है की शनिवार को सूर्य भगवान को जल देना चाहिए या नहीं तथा सूर्य भगवान को किस दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए. अगर किसी के मन में यह सवाल है. तो आज हम उनके सवाल का जवाब इस आर्टिकल के माध्यम से देने वाले हैं. इसके अलावा सूर्य भगवान को जल चढ़ाने के फायदे तथा नियम के बारे में भी बताने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

पूजा कब नहीं करनी चाहिए | सुबह कितने बजे उठकर पूजा करनी चाहिए

शनिवार को सूर्य भगवान को जल देना चाहिए या नहीं / सूर्य भगवान को किस दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए

कुछ लोगो के मन में ऊपर दिए गए सवाल होते हैं. तो इसके जवाब में हम आपको बता रहे है. की सूर्य भगवान को रोजाना जल चढ़ाया जा सकता हैं. शनिवार के दिन भी आप सूर्य भगवान को जल चढ़ा सकते हैं. जब सूर्य भगवान हमें रोजाना नियमित रूप से दर्शन दे रहे है. तो उन्हें रोजाना जल चढ़ाना चाहिए.

घर के मंदिर में माचिस क्यों नहीं रखनी चाहिए | पूजा घर में कितनी फोटो रखनी चाहिए

अब हम आपको सूर्य भगवान को जल चढाने के फायदे और नियम के बारे में बताने वाले है.

Shaniwar-ko-sury-bhagwan-ko-jal-dena-chahie-ya-nhi (2)

सूर्य भगवान को जल चढ़ाने के फायदे

सूर्य भगवान को जल चढाने से निम्नलिखित फायदे होते है:

  • अगर आप के आंखो में दोष हैं. या फिर आंखो में कमजोरी है. तो जब भी आप सूर्य भगवान को जल चढ़ाए. तब जल देते समय गिरते हुए जल में देखने से आंखो से संबंधित विकार दूर हो जाता हैं. तथा नेत्र दोष से छुटकारा मिलता हैं.
  • सूर्य भगवान को नियमित रूप से जल चढाने से व्यक्ति की नौकरी में उन्नति होती हैं. तथा नौकरी में मान-सम्मान मिलता हैं.
  • अगर कोई राजनीती में है. तो सूर्य भगवान को जल चढाने से उनकी प्रतिभा बढती हैं.
  • अगर कोई व्यक्ति सूर्य भगवान को जल चढ़ाता है. तो उसे अपने पिता से सहयोग मिलता हैं.
  • अगर आप अपने ह्रदय को स्वस्थ रखना चाहते है. तो सूर्य भगवान को जल चढाने से ह्रदय स्वस्थ रहेगा. तथा ह्रदय रोग होने की संभावना कम हो जाती हैं.
  • सूर्य भगवान को रोजाना जल चढाने से व्यक्ति के मान-सम्मान में वृद्धि होती हैं.
  • अगर किसी को त्वचा संबंधी समस्या है. तो सूर्य भगवान को जल चढाने से फायदा होता हैं.

ब्रह्माकुमारी के नियम और ज्ञान / brahma kumaris rules in hindi

सूर्य भगवान को जल चढ़ाने के नियम

सूर्य भगवान को जल चढ़ाते समय कुछ नियम ध्यान में रखने होते हैं. जो हमने नीचे दिए हैं.

  • सबसे पहले तो यह ध्यान रखना है. की अगर आप सुबह के समय सूर्योदय के दौरान जल चढाते है. तो अधिक फायदा होता हैं.
  • जब भी सूर्य भगवान को जल चढ़ाए सूर्योदय होने से पहले ही अपना बिस्तर छोड़ दे.
  • सूर्य भगवान को जल हमेशा स्नान आदि करने के बाद ही चढ़ाए.
  • सूर्य भगवान को शुद्ध जल और तांबे के लौटे से ही जल चढ़ाना चाहिए.
  • सूर्य भगवान को जल चढाते समय दोनों हाथो से लौटे को पकड़कर ही जल चढ़ाना चाहिए.
  • तांबे के लौटे में जल के साथ कुमकुम, अक्षत तथा लाल फुल भी डालने चाहिए.
  • जब भी आप सूर्य भगवान को जल अर्पित करे जल की धारा को देखना चाहिए.
  • पूर्व दिशा की तरफ मुख करके ही जल चढ़ाए.
  • जब भी आप सूर्य भगवान को जल चढ़ाए. तब “ओम सूर्याय नम: मंत्र का जाप अवश्य करे.
  • जल चढाने के बाद सूर्य भगवान की परिक्रमा जरुर लगाए.
  • जल चढाते समय जूते-चप्पल आदि नहीं पहने नंगे पैर ही सूर्य भगवान को जल चढ़ाना चाहिए.
  • जल चढाने के बाद सूर्य भगवान को चढ़ाया हुआ जल आपके पैर में नहीं आना चाहिए इसका खास ध्यान रखे.

Shaniwar-ko-sury-bhagwan-ko-jal-dena-chahie-ya-nhi (3)

गरुड़ पुराण कब पढ़ना चाहिए / गरुड़ पुराण के टोटके, नियम, और फायदे

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से शनिवार को सूर्य भगवान को जल देना चाहिए या नहीं इसके जवाब में बताया की रोजाना ही सूर्य भगवान को जल चढ़ाया जा सकता हैं. तथा सूर्य भगवान को जल चढाने के फायदे और नियम के बारे में भी आपको जानकारी प्रदान की हैं.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह शनिवार को सूर्य भगवान को जल देना चाहिए या नहीं / सूर्य भगवान को किस दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

नाभि ठीक करने का मंत्र तथा शाबर मंत्र धरन ठीक करने का मंत्र

सुई से टोटका करने की विधि – समस्याओ से तुरंत हल पाने का तरीका

अकाल मृत्यु के बाद आत्मा कहां जाती है / अकाल मृत्यु से बचने के लिए मंत्र और उपाय

4 thoughts on “शनिवार को सूर्य भगवान को जल देना चाहिए या नहीं / सूर्य भगवान को किस दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए”

Leave a Comment